fbpx

रेल रोको आंदोलन में कई ट्रेनों का रास्ता रोका, पटरियों पर सभा कर रहे आंदोलनकारी

 रेल रोको आंदोलन में कई ट्रेनों का रास्ता रोका, पटरियों पर सभा कर रहे आंदोलनकारी

नई दिल्ली: नए कृषि कानूनों को लेकर आज 18 फरवरी को किसान रेल रोको आंदोलन कर रहे हैं. दोपहर 12 बजे से शाम 4 बजे तक चार घंटे का सांकेतिक आंदोलन आयोजित किया गया है. संयुक्त किसान मोर्चा के नेतृत्व में रेल रोकी जा रही हैं. इसका कुछ असर भी शुरूआती घंटों में देखने को मिल रहा है. हरियाणा-पंजाब के अलावा बिहार से भी रेल रोकने के प्रयासों की खबरें आ रही हैं.

इसी क्रम में एहतियात को लेकर दिल्ली मेट्रो के चार स्टेशनों को बंद किया गया है. साथ ही कई स्टेशनों पर भारी मात्रा में पुलिस बल की तैनाती की गई है. यूपी पुलिस ने कहा है कि किसान आंदोलन यूपी में शांतिपूर्ण है. दोपहर एक बजे तक किसी गड़बड़ी की सूचना नहीं थी. लेकिन, दूसरे राज्यों से ट्रेनें रोकने की खबरें आ रही हैं.

फिरोजपुर मंडल के फगवाड़ा स्टेशन पर मालवा एक्सप्रेस और जालंधर कैंट स्टेशन पर सुपर एक्सप्रेस ट्रेनों को रोका गया है. इसी तरीके से जम्मू से आने वाली मालवा एक्स्प्रेस को पठानकोट कैंट स्टेशन परर और लुधियाना स्टेशन पर पश्चिम एक्सप्रेस को रोका गया था. हरियाणा में भी ऐसी कोशिशों की खबरें आ रही हैं.

राजस्थान की राजधानी जयपुर से भी इस तरह की सूचनाएं आ रही हैं. बिहार में भी पटना जंक्शन पर कुछ आंदोलनकारी जुटे हुए हैं. शाम चार बजे तक ट्रेन रोको अभियान चलना है. बताया जा रहा है कि इससे कई रूटों पर ट्रेनों का आवागमन बाधित होगा. जिसका असर एक-दो दिन तक यात्रियों पर पड़ेगा. बहरहाल यह भी सूचना है कि कुछ स्थानों पर पटरियों पर बैठ कर ही आंदोलनकारी सभाएं कर रहे हैं.

Related post