fbpx

कृषि मजदूरों की कमी से फसल काटने में दिक्कत, कोविड से समस्या गहराई

 कृषि मजदूरों की कमी से फसल काटने में दिक्कत, कोविड से समस्या गहराई

नई दिल्ली: एक तरफ जहां गेहूं की फसल पक कर तैयार है वहीं कुछ राज्यों में इसे काटने में दिक्कत आ रही है. किसान ने तो अपना काम कर दिया है, खेत भी लहलहा रहे हैं लेकिन फसल काटने वाला कोई नहीं है. सबसे ज्यादा समस्या इस समय जम्मू में देखी जा रही है. यहां के किसानों का कहना है कि फसल पूरी तरह से पक कर पीली हो गई है लेकिन कृषि मजदूर ही नहीं हैं जिनकी मदद से फसल काटी जाए.

इसके साथ ही पंजाब से आने वाली कंबाइन मशीनों का भी इंतजार किया जा रहा है. लेकिन, कोरोना के गहराते असर से इसमें समस्या आ रही है. लॉकडाउन जैसी स्थिति और कोरोना के खतरे की वजह से पंजाब और हरियाणा से भी मजदूर वापस जा रहे हैं. ऐसे में जम्मू में तो मुश्किल आनी ही है. अब किसानों को चिंता सता रही है कि यदि समय से फसल काटी नहीं गई तो गेहूं खराब हो सकते हैं.

Related post