fbpx

ये अनोखा बैंक आपका दिल जीत लेगा, यहां पैसा नहीं मिलता है कुछ और…

 ये अनोखा बैंक आपका दिल जीत लेगा, यहां पैसा नहीं मिलता है कुछ और…

मुंबई: अगर बैंक का नाम आए तो आम तौर पर हमारे मन में पैसे के लेनदेन का ही ख्याल आता है. लेकिन, महराष्ट्र के अकोला जिले के सांघवी मोहाली गांव में दो सालों से एक अनोखा ही बैंक चल रहा है. इस बैंक का नाम ही असाधारण है ‘गोट बैंक ऑफ कारखेड़ा’, तो जैसा की नाम है वैसा ही काम भी.

जी हां ! यह बकरियों का बैंक है और यहां लोन भी मिलता है. लोन के नाम पर यहां से गर्भवती बकरियां दी जाती हैं और सूद के तौर पर चार मेमने लिए जाते हैं. अलग-अलग जिलों में अब तक पांच सौ से ज्यादा बकरियां लोन के तौर पर दी जाती हैं. इस तरह से एक हजार से ज्यादा मेमने भी मिल चुके हैं.

इस बैंक की शुरूआत नरेश देशमुख ने साल 2018 में की थी. उनके अनुसार खेती से गुजारा होना मुश्किल लग रहा था ऐसे में अतिरिक्त कमाई के लिए लोग मवेशी पालते हैं. इसमें से सबसे अच्छी कमाई बकरी के मामले में होती है. एक बकरी के सात से आठ महीने में दो या तीन बच्चे होते हैं.

इसी से गोट बैंक का ख्याल आया और फिर उन्होंने बैंक की शुरूआत कर दी. 2020 में कोरोना की वजह से वे बकरियां नहीं दे पाएं लेकिन अभी 800 बकरियों को वो लोन पर देने वाले हैं. वो चाहते हैं कि अन्य राज्यों में भी ये शाखाएं खुलें.

Related post